हिंदी दिवस 2023 ,14 सितंबर को ही क्यों मनाया जाता हैं हिंदी दिवस ?

भारत में 14 सितंबर को हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता हैं . दुनिया भर में 420 मिलियन से अधिक लोग इसे अपनी मातृभाषा के रूप में बोलते हैं. भारतीय संविधान के अनुच्छेद 343 के अनुसार भारत की राजभाषा हिंदी और लिपि देवनागरी होगी

.भारत विविधताओ का देश हैंहां विभिन्न प्रकार की वेशभूषा,रहन सहन ,खानपीन,लोक साहित्य व बोलियाँ पाई जाती हैं सांस्‍कृतिक विविधता से भरे इस देश को जोड़े रखने में हिंदी भाषा महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं .हिंदी भाषा की इसी उपयोगिता को ओर बढावा देने के उद्देश्य से प्रतिवर्ष 14 सितंबर को हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता हैं . हिंदी दिवस के इस अवसर पर देश भर के सभी स्कूल-कॉलेजों व सरकारी कार्यालयो में विभिन्न आयोजन किये जाते हैं .

हिंदी दिवस कब और कैसे मनाया जाता हैं ?

काफ़ी बहस के बाद 14 सितंबर1949 को संविधान सभा ने सर्वसम्मति से हिंदी को राजभाषा स्वीकार किया . तब से 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जाता हैं .इस मोके पर देश भर में विभिन्न सांस्‍कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं .इस अवसर पर 1 सितंबर से 14 सितंबर तक हिंदी पखवाडा मनाया जाता हैं .

14सितंबर को ही क्यों मनाया जाता हैं हिंदी दिवस ?

भारतीय संविधान सभा ने इसी दिन यानि 14 सितंबर को ही भारतीय राजभाषा के रूप में अपनाया था .तब से ही 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जाता हैं .दरअसल आजादी के बाद हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाने को लेकर काफी बहस हुई .गैर हिंदी भाषी राज्य हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाने के पक्ष में नहीं थे .उनका कहना था कि हिंदी उनकी मातृभाषा नहीं है.ऐसे में हिंदी को भारत की राष्ट्रभाषा बनाया गया तो ये उनके साथ अन्याय होगा .लेकिन भारत के अधिकांश भाग में हिंदी बोले जाने के कारण हिंदी को भारत की राजभाष स्वीकार कर लिया गया .चुकी जिस दिन यानि 14 सितंबर को हिंदी को भारत की राजभाष स्वीकार किया गया उस दिन हिन्दी के मूर्धन्य साहित्यकार व्यौहार राजेन्द्र सिंह का 50वाँ जन्मदिन था .इसीलिए हर वर्ष 14 सितम्बर को ही हिंदी दिवस मनाया जाता हैं .

हिंदी दिवस

हिंदी का महत्व और उदेश्य !

भारत की जान हिंदी हैं .यह एक भाषा मात्र नहीं बल्कि एक भारतीय को दुसरे भारतीय से जोड़ने का माध्यम हैं .यह केवल भाषा न होकर हमारे जीवन के मूल्य का परिचय भी हैं .हिंदी का महत्व तब और बढ जाता हैं, जब यह भारत में रहने वाले भारतीय को विदेशो में रहने वाले भारतीय से जोडती हैं .बहुत सरल, सहज होने के साथ साथ यह विश्व की वैज्ञानिक भाषाओ में से एक हैं .

हिंदी भाषा की विशेषता !

हिंदी भाषा की विशेषता यह हैं कि यह सिर्फ हिंदी तक ही सीमित नहीं हैं . हिंदी को चार भागो में बांटा गया हैं . हिंदी भाषा ने दूसरी भाषाओ के शब्दों को भी अपनाया हैं .इसमें मुख्य रूप से अरबी ,फारसी , के शब्दों भी समावेश पाया जाता हैं .

इस हिंदी भाषा की लोकप्रियता के कारण वर्ष भर में हिंदी दिवस दो बार मनाया जाता हैं . विश्व भर में 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस और देश में 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जाता हैं

विश्व हिंदी दिवस 10 जनवरी को क्यों मनाया जाता हैं ?

हिंदी भाषा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से प्रतिवर्ष 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस मनाया जाता है.10 जनवरी, 1975 को नागपुर में   पहली बार यह दिवस वर्ष 2006 में मनाया गया था. 

हिंदी भाषा के बारे में रोचक तथ्य !

  • दुनियाभर में बोली जाने वाली पांच भाषाओ में से एक हिंदी भाषा हैं .
  • हिंदी विश्व के अनेक विश्व विद्यालयों में पढाई जाती हैं .
  • फिजी में हिंदी भाषा को आधिकारिक दर्जा दिया गया हैं .
  • अब हिंदी भाषा में वेब एड्रेस या यू आर एल भी बनाये जाने लगे हैं .
  • हिंदी विश्व की दूसरी सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा हैं .

इन्हें भी देखे ……

बंदूक कैसे काम करती हैं || Banduk Kaise Kam Karti Hai(Hindi Me)

फ्री टैबलेट स्मार्टफोन योजना 2023 |Free Tablet Smartphone Yojana 2023

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top
Scroll to Top